रौनकें नई लाया है त्यौहार-ए-नया साल

Posted on
  • by
  • Shah Nawaz
  • in
  • Labels:


  • रौनकें नई लाया है त्यौहार-ए-नया साल।

    खुशियों पे आज छाया है ख़ुमार-ए-नया साल।।

    हर होंट पे तबस्सुम आज चमचमा रही है।

    शौखियों पे यूँ आया है निखार-ए-नया साल।।




    नव वर्ष 2012  की ढेरों शुभकामनाएँ!

    12 comments:

    1. नववर्ष की शुभकामनाएं।

      ReplyDelete
    2. नया साल आपको भी बहुत बहुत मुबारक हो !

      ReplyDelete
    3. नया साल आपको भी बहुत बहुत मुबारक हो !

      ReplyDelete
    4. नववर्ष कामनाओ की कसौटी पर खरा उतरे

      ReplyDelete
    5. नव वर्ष में हालात और सुधरें , यही मंगलकामना है ।
      शुभकामनायें आपको ।

      ReplyDelete
    6. Aapko naya saal bahut mubarak ho!

      ReplyDelete
    7. दस दिनों तक नेट से बाहर रहा! केवल साइबर कैफे में जाकर मेल चेक किये और एक-दो पुरानी रचनाओं को पोस्ट कर दिया। लेकिन आज से मैं पूरी तरह से अपने काम पर लौट आया हूँ!
      नववर्ष की हार्दिक मंगलकामनाओं के आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि-
      आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल मंगलवार के चर्चा मंच पर भी होगी!

      ReplyDelete
    8. बहुत सुंदर ...
      नव वर्ष की शुभकामनायें आपको !

      ReplyDelete
    9. पूरा साल इसी तरह शोखियों में गुज़रे:)

      ReplyDelete
    10. नववर्ष की शुभकामनाएं,नया साल मुबारक हो।

      ReplyDelete